अगर आपका भी अपने पार्टनर के साथ अक्सर झगड़ा होता है और उस वक्त आप अपने गुस्से पर काबू नहीं रख पाते. तो आपको अपने अंदर ये बदलाव लाने की जरूरत है.

पति पत्नी का रिश्ता सबसे मजबूत होता है लेकिन इस रिश्ते की डोर सबसे कमजोर होती है. आजकल रिलेशनशिप में जरा-जरा सी बात पर बहस होने लगती है. हालांकि पति पत्नी के रिश्ते ऐसा होना कोई नई बात नहीं है लेकिन कई बार झगड़ा इतना ज्यादा बढ़ जाता है कि रिश्ते टूटने के कगार पर पहुंच जाते हैं.

शादीशुदा जिंदगी हो या शादी से पहले कभी न कभी ऐसी स्थिति जरूर पैदा हो जाती है जब आपके पार्टनर के साथ तनाव बढ़ जाता है. ऐसी स्थिति में किसी एक को नरमी बरतने की जरूरत होती है. अक्सर रिलेशनशिप में झगड़े की वजह दोनों का एक वक्त पर गुस्सा करना. एक दूसरे पर भरोसा नहीं करना और अपने ईगो को अपने रिश्ते से बड़ा समझना होता है. अगर आपके रिश्ते में भी यही परेशानियां आ रही हैं तो आपको सबसे पहले खुद पर काबू करना होगा. झगड़ा करते वक्त अगर आप कुछ बातों का ख्याल रखेंगे तो आपके रिश्ते में कभी कड़वाहट पैदा नहीं होगी. हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं जिससे आप अपने और अपने पार्टनर के गुस्से को कंट्रोल कर सकते हैं.

इन बातों का रखें ध्यान

बहस न करे: जब भी आप दोनों में से कोई बहस करे तो उस वक्त दूसरा शांत होकर सुने. जब आपके पार्टनर का गुस्सा शांत हो जाए तब आप अपनी बात आराम से समझाएं.

शक न करें: अक्सर लड़ाई का बड़ा कारण शक करना होता है फिर वो किसी भी तरह का हो सकता है. ऐसे में आपको एक दूसरे के बीच विश्वास पैदा करना है. अपने पार्टनर की बात पर भरोसा करें.

बात करें: कभी भी जब लड़ाई हो तो बात करना बंद न करें. ऐसा करने से झगड़ा और लंबा बढ़ जाता है. अपने पार्टनर से बात करें और समझाएं कि ऐसे व्यवहार से आपको तकलीफ होती है.

परिवार को बीच में न लाएं: जब भी किसी बात पर बहस हो तो घर वालों को बीच में न लाएं. ऐसा करने से बात और ज्यादा खराब होती है. अपने झगड़े को खुद तक ही सीमित रखें.

व्यवहार सामान्य रखें: अगर आप अपना व्यवहार सामान्य रखते हैं तो आपके पार्टनर को खुद अपनी गलती का अहसास होगा और वो आपसे सॉरी भी बोलेगा. आपको उसका नजरिया समझने की भी जरूरत है.

फिर से सोचें: ऐसा नहीं हो सकता कि झगड़े में हमेशा आप ही सही हों. अगर आप ऐसा समझते हैं तो आप अपने रिश्ते को गलत तरीके से चला रहे हैं. आपको हमेशा अपनी बात और अपने पार्टनर की बात को दोबारा सोचना चाहिए. सही गलत का पता चल जाएगा.

झगड़े की परिस्थिति से बचें: जब भी आपको लगे कि आपकी बातचीत बहस की ओर जा रही है किसी और काम में अपना ध्यान लगाएं. गहरी सांस लें और खुद को रिलेक्स करें.

अपशब्द न कहें: कभी भी लड़ाई में अपने पार्टनर को गाली या अपशब्द न कहें. अपमानजनक बातें न कहें. ऐसा करने से स्थिति और ज्यादा गंभीर हो सकती है और ये बातें हमेशा याद रहती हैं जो रिश्ते में कड़वाहट पैदा करती हैं.

Source link